ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

प्रमुख समाचार

'देश के पूर्व प्रधान न्यायधीश बाहरी ताकत के इशारे पर काम करते थे'

नई दिल्ली।

४ दिसबंर २०१८

न्यायमूर्ति कुरियन जोसेफ ने सेवानिवृत्त होने के कुछ दिनों बाद सोमवार को एक सनसनीखेज दावे में कहा कि पूर्ववर्ती प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा किसी ‘‘बाहरी ताकत’’ के प्रभाव में काम कर रहे थे जिससे न्यायिक प्रशासन प्रभावित हुआ। न्यायमूर्ति जोसेफ उच्चतम न्यायालय के उन चार न्यायाधीशों में शामिल थे जिन्होंने गत जनवरी में एक अभूतपूर्व संवाददाता सम्मेलन किया था। 29 नवम्बर को सेवानिवृत्त हो चुके न्यायमूर्ति जोसेफ ने कहा, तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश किसी ‘‘बाहरी ताकत’’ के प्रभाव में काम कर रहे थे।


फाइल फोटो।

वह किसी बाहरी ताकत द्वारा रिमोट से नियंत्रित थे। किसी बाहरी ताकत का कुछ प्रभाव था जो न्यायिक प्रशासन को प्रभावित कर रहा था। यह पूछे जाने पर कि वह यह दावा किस आधार पर कर रहे हैं, न्यायमूर्ति जोसेफ ने कहा कि उन न्यायाधीशों की ऐसी धारणा थी जिन्होंने उच्चतम न्यायालय के समक्ष उत्पन्न मुद्दों को लेकर संवाददाता सम्मेलन किया था। ऐसी ही धारणा अदालत के कुछ अन्य न्यायाधीशों के बीच भी थी। उन्होंने इस बारे में विस्तार से बताने से इनकार कर दिया कि वह‘बाहरी ताकत’’ कौन थी और वे कौन से मामले थे जिसमें पक्षपात हुआ और न्यायिक प्रशासन प्रभावित हुआ।

न्यायमूर्ति जोसेफ ने उच्चतम न्यायालय के तीन अन्य न्यायाधीशों न्यायमूर्ति जे चेलमेश्वर सेवानिवृत्त, न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, वर्तमान के प्रधान न्यायाधीश, और न्यायमूर्ति मदन लोकुर के साथ 12 जनवरी को एक संवाददाता सम्मेलन कर न्यायमूर्ति मिश्रा के खिलाफ खुलेआम बगावत का बिगुल बजा दिया था। चारों न्यायाधीशों ने उक्त संवाददाता सम्मेलन में संवेदनशील मामलों के तरजीही आवंटन को लेकर अपनी चिंता जतायी थी।




जरा ठहरें...
भारतीय रेलवे ने डीजल इंजन को विद्युत इंजन में तब्दील करके बनाया विश्व कीर्तिमान
10 दिसंबर को दिल्ली में होगी विपक्षी महागठबंधन की बैठक!
सोहराबुद्दीन-तुलसी एनकाउंटरः मुख्य षडयंत्रकारी थे अमित शाह - चीफ आईओ
भाजपा के खिलाफ महागठबंधन में शामिल होने के लिए ममता हाथ मिलाने के लिए तैयार
एसबीआई एटीएम से अब २० हजार से ज्यादा नहीं निकाल पाएंगे
दिल्ली रहने लायक नहीं, सरकारी सर्वेक्षण में देश में 65 वां स्थान!
रेलवे में फ्लैक्सी किराया लगने से ७ लाख यात्री दूर, कैग ने रेलवे को लगाई लताड़!
मुफ्त गैस कनेक्शन के पीछे सरकार का खेल, 8 करोड़ को दो 80 करोड़ से लो!
19 साल बाद भी रेल हादसे का मुआवजा वही है!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.