ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

प्रमुख समाचार

प्रसाद ने कहा देश की जनता कांग्रेस के कैंपेन और झूठे आरोपों को माफ नहीं करेगी

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

नई दिल्ली

१५ अक्टूबर २०१९

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि आज सुप्रीम द्वारा कोर्ट राफेल डील पर दायर पुनर्विचार याचिकाओं को खारिज करने के फैसले के बाद देश को बदनाम करने और हमारे लोकप्रिय एवं ईमानदार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की छवि को धूमिल करने का दुष्प्रचारपूर्ण प्रायोजित अभियान चलाने के लिए कांग्रेस पार्टी को औपचारिक रूप से देश से माफी मांगना चाहिए। साथ ही राहुल गाँधी को व्यक्तिगत रूप से देश की समस्त जनता से माफी मांगनी चाहिए। वरिष्ठ भाजपा नेता ने कहा कि जीप घोटाले से लेकर बोफोर्स, सबमरीन और ऑगस्टा वेस्टलैंड घोटाले तक कांग्रेस का इतिहास प्रायोजित राजनीतिक कार्यक्रम को न्याय के गुहार के रूप में स्थापित करने का रहा है। उन्होंने कहा कि जिनके हाथ पूरी तरह से भ्रष्टाचार में रंगे हैं, देश की सुरक्षा से जिन्होंने खिलवाड़ किया है।


वे ही देश को बदनाम कर राष्ट्र की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ कर रहे थे। राफेल मामले में भी देश की सर्वोच्च अदालत ने पिछले साल 14 दिसंबर 2018 को निर्णय देते हुए स्पष्ट रूप से कहा था कि कुछ लोगों की बेबुनियाद सोच कोर्ट द्वारा किसी की फिशिंग इन्क्वायरी का आधार नहीं बन सकता। कोर्ट ने डील की निर्णय प्रक्रिया, कीमत और ऑफसेट पार्टनर के चुनाव की पूरी प्रक्रिया की जांच की और स्पष्ट कहा कि भारत सरकार ने ऑफसेट पार्टनर के चुनाव में किसी का भी फेवर नहीं कीया क्योंकि इसके निर्धारण में भारत सरकार की कोई भूमिका ही नहीं थी। प्रसाद ने कहा कि दिसंबर 2018 में राफेल मामले पर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आने से पहले देश भर में कांग्रेस एवं उसकी सहयोगी पार्टियों द्वारा प्रायोजित कार्यक्रम किये गए और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी और देश को बदनाम करने के अभियान चलाये गए।

जब कांग्रेस पार्टी सुप्रीम कोर्ट से हार गई तो इसे लोक सभा चुनाव का प्रमुख मुद्दा बनाया गया। राहुल गाँधी ने तो चुनाव के दौरान यहाँ तक कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने हमारे लोकप्रिय और ईमानदार प्रधानमंत्री को चोर कहा है। जनता ने राहुल गाँधी के इस झूठ का जवाब कांग्रेस को एक बार फिर पूरी तरह नकार कर दिया और आज राफेल मामले पर रिव्यू पिटीशन भी खारिज हो गई है। फैसला सुनाते हुए खंडपीठ में शामिल सभी जजों ने सहमति जताते हुए स्पष्ट कहा कि इस मामले की जांच की कोई जरूरत नहीं है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आज अपने फैसले में पेज संख्या 15, पैरा 31 में स्पष्ट रूप से इस बात का उल्लेख किया है कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री के खिलाफ ‘चोर’ वाला बयान जानबूझ कर बार-बार दिया था।


भविष्य में ऐसे मामलों में बयान देते समय लोग ज्यादा सतर्क रहें। चूंकि अपने गलत और झूठे बयान के लिए राहुल गांधी ने अदालत से माफी मांग ली, इसलिए अदालत ने राहुल गाँधी को छोड़ दिया। प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी को देश की जनता से सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए क्योंकि उन्होंने ऑफसेट को लेकर झूठ बोला, यह झूठ बोला कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति ने हमारे प्रधानमंत्री को चोर कहा है, जिसका राष्ट्रपति ने ही खंडन कर दिया।


राहुल गाँधी ने संसद में भी झूठ बोला कि फ्रांस के वर्तमान राष्ट्रपति ने कहा कि डील को डिस्क्लोज कर सकते हैं जबकि फ्रांस सरकार ने ही राहुल गाँधी के इस बयान का खंडन कर दिया। राहुल गाँधी ने यह भी झूठ बोला कि राफेल डील में कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्यॉरिटी को लूप में नहीं रखा गया जबकि इस मामले में हर तय प्रक्रिया का पालन किया गया। उन्होंने कहा कि राहुल गाँधी की विद्वता तो तब और सामने आई जब उन्होंने राफेल के दाम को लेकर देश की जनता को गुमराह किया।

29 अप्रैल 2018 को नई दिल्ली में राहुल गाँधी ने एक राफेल लड़ाकू विमान की कीमत 700 करोड़ रुपये बताई, जुलाई 2018 में इसका दाम 520 करोड़ रुपये बताया, 10 अगस्त 2018 को रायपुर की रैली में 540 करोड़ कहा तो 11 अगस्त को एक सभा में इसे 520 करोड़ रुपये का बताया। यहाँ तक कि एक जगह तो राहुल गाँधी ने एक राफेल लड़ाकू विमान की कीमत 570 रुपये भी बताई।


जरा ठहरें...
देश के सबसे बड़े हवाई अड्डे का निर्माण करेगी स्विटजरलैंड की कंपनी
रेलवे का निजीकरण नहीं - रेल मंत्री
मुंबई का पानी सबसे बेहतर तो दिल्ली का सबसे खराब - केंद्र सरकार
अमित शाह की दो टूक, शिवसेना की मांग हमें मंजूर नहीं...!
दिल्ली पुलिस मुख्यालय की सुरक्षा केंद्रीय पुलिस बलों को सौंपी गयी
संसद का शीतकालीन सत्र १८ नवंबर से १३ दिसंबर तक
वंदेभारत रेलगाड़ी से दिल्ली से मां वैष्णोदेवी देवी के बीच महज ८ घंटे में यात्रा
ख़ास: मोदी सरकार राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडियागेट तक कायाकल्प करने की तैयारी पूरी की!
अभूतपूर्व मोदी सरकार: जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक राज्यसभा से पास
आज के इस ऐतिहासिक फैसले को हमने साल भर पहले ही ब्रेक कर दी थी..!
कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के कर्मचारियों का मानदेय न्याय संगत किया जाए - एसोसिएशन
मुफ्त गैस कनेक्शन के पीछे सरकार का खेल, 8 करोड़ को दो 80 करोड़ से लो!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.