ताज़ा समाचार-->:

चर्चा में

एक ऐसी दूरबीन जो १०० प्रकाश वर्ष दूर तक देख सकेगी!
१२ साल बाद एलिएन के बारे में जान सकेगा मानव - वैज्ञानिक

लंदन

एजेंसी।

२७ दिसंबर २०१२।

मानव अगले 12 सालों में दूसरे ग्रह के प्राणियों (एलियन) से सम्पर्क स्थापित कर सकता है। यह बात ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय के यूएफओ (अन आइडेंटीफाइड ऑब्जेक्ट) परियोजना के एक पूर्व अधिकारी ने कही। समाचार पत्र डेली एक्सप्रेस के मुताबिक यूएफओ परियोजना के पूर्व प्रमुख निक पोप ने कहा कि स्क्वोयर किलोमीटर एरे (एसकेए) नामक वृहदाकार दूरबीन के विकास से यह जाना जा सकेगा कि ब्रह्मांड में कहीं और जीवन है या नहीं।

पोप ने मंत्रालय में 21 सालों तक यूएफओ देखी जाने वाली घटना का अध्ययन किया है। उन्होंने कहा, "मैं एक विवादास्पद बयान दूंगा। मैं आपको एक निश्चित वर्ष के बारे में बताउंगा कि कब सम्पर्क की पहली बार पुष्टि होगी - और वह वर्ष है 2024। यदि सभी योजना समय से पूरी होती है तो उसी वर्ष एसकेए काम करना शुरू कर देगा।"

एसकेए का काम 2016 में शुरू होगा। यह दुनिया का सबसे बड़ा रेडियो दूरबीन होगा। इसमें हजारों रिसेप्टर लगे होंगे, जो आस्ट्रेलिया में पांच हजार वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में फैले होंगे। वैज्ञानिकों के मुताबिक एसकेए किसी भी दूसरे दूरबीन से 50 गुणा अधिक संवेदनशील होगा और 10 हजार गुणा अधिक तेजी से आकाश का सर्वेक्षण करने में मदद करेगा। पोप ने कहा कि यदि 100 प्रकाशवर्ष दूर भी यदि कोई सभ्यता होगी, तो इस दूरबीन से पता चल जाएगा। साभार।



फाइल उपयोग के लिए।





जरा ठहरें...
“सचिन बताएं उनके लिए धन बड़ा या देश, होगा उनके खिलाफ प्रदर्शन”
भारतीय सुरक्षा सलाहकार जब SCO बैठक बीच में छोड उठकर चले गए…!
चीन को लेकर रक्षामंत्री ने तीनों सेना प्रमुखों और सीडीएस के साथ उच्चस्तरीय बैठक की
देश के जाने माने अधिवक्ता प्रशांत भूषण पर सर्वोच्च न्यायालय ने एक रूपए का लगाया जुर्माना
प्रधानमंत्री द्वारा आज अयोध्या में भूमि पूजन ऐतिहासिक और गौरवपूर्ण दिन है - अमित शाह
कोरोना: ज़रूरी नहीं कि एक वैक्सीन से ख़त्म हो जाए वायरस - WHO
वंदेभारत रेल परियोजना से चीनी कंपनी को हटाए सरकार - कैट
“चीन पर भारत का डिजीटल हमला निशाने पर, गिड़गिडाने लगे चीनी व्यापारी”
भारत का नया दुश्मन बना नेपाल, चीन को दे बैठा अपनी जमींन...!
मुख्य समाचार चीन से निपटने के लिए सेना को पूरी छूट दी गयी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी में इतिहास बदलने की क्षमता है - मेजर जनरल (रि) जे के एस परिहार
प्रतिदिन 25-प्रतिशत बच्चे भूखे रह जाते हैं
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.