ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

ताजा समाचार

श्रीरामायण यात्रा रेल से करिए पूरे भारत में भगवान राम से जुड़े पवित्र तीर्थ स्थलों का दर्शन
रेलमंत्रालय के बहुप्रतीक्षित और महत्वाकांक्षी इस रेल यात्रा की शुरूआत हो चुकी है

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली, 7 नवंबर 2021

रेलमंत्रालय ने बहुप्रतीक्षित श्रीरामायण यात्रा रेल यात्रा की शुरूआत कर दी है। 17 दिन तक चलने वाली इस श्रीरामायण तीर्थ यात्रा रेलगाड़ी भारत में जहां जहा भगवान श्रीराम के चरण पड़े उन सभी स्थलों को कवर करते हुए अपनी पूरी यात्रा करती है। आईआरसीटीसी द्वारा संचालित इस रेलगाड़ी में स्लीपर श्रेणी का प्रति व्यक्ति किराया लगभग 15 हजार है। इसमें एक व्यक्ति का 17 दिन का पूरा आना जाना खाना पीना नाश्ता और श्रीराम से जुड़े दर्शनीय स्थनीय स्थलों का दर्शन आदि करवाना शामिल है।

दिल्ली से तो यह ट्रेन निकल चुकी है, लेकिन अगर आप रास्ते से इस ट्रेन में बैठना चाहते हैं और अगर सारी सीटें फुल नहीं हुई हैं तो टिकट चेक कर सकते हैं। इस यात्रा की बुकिंग के लिए उम्र 18 या उससे अधिक होनी चाहिए। वहीं आपको कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगी होनी चाहिए। तो अगर आप भी यात्रा करना चाहते हैं तो पहले सुनिश्चित कर लें कि यात्रा से पहले आपको कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग जाएंगी। आईआरसीटीसी की वेबसाइट https://www.irctctourism.com पर जाकर आप इस ट्रेन की टिकट ऑनलाइन बुक कर सकते हैं। ध्यान रहे कि बुकिंग की सुविधा आधिकारिक वेबसाइट पर, पहले आओ-पहले पाओ के आधार पर उपलब्ध है। अधिक जानकारी के लिए 8287930202, 8287930299 और 8287930157 मोबाइल नंबरों पर संपर्क भी किया जा सकता है।

जी हां भगवान श्रीराम में आस्था रखने वाले श्रद्धालुओं के लिए रेलवे एक बड़ी खुशखबरी लाया है। आईआरसीटीसी ने धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए 'देखो अपना देश' की पहल के तहत डीलक्स एसी टूरिस्ट ट्रेन चलाने का फैसला किया है। यह ट्रेन श्री रामायण यात्रा के लिए चलाई गई है। 7 नवंबर को यह ट्रेन दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से चल चुकी है। अगर आप भी इस ट्रेन की यात्रा का लुत्फ उठाना चाहते हैं तो जानिए इससे जुड़ी हर जानकारी। 

यात्रा का पहला पड़ाव प्रभु श्री राम का जन्म स्थान अयोध्या होगा, जहां श्री राम जन्मभूमि मंदिर, श्री हनुमान मंदिर और नंदीग्राम में भरत मंदिर का दर्शन कराया जाएगा। अयोध्या से रवाना होकर यह ट्रेन सीतामढ़ी जाएगी, जहां जानकी जन्म स्थान और नेपाल के जनकपुर स्थित राम जानकी मंदिर का दर्शन प्राप्त किया जा सकेगा। ट्रेन का अगला पड़ाव भगवान शिव की नगरी काशी होगा, जहां से पर्यटक बसों के जरिए काशी के प्रसिद्ध मंदिरों सहित सीता समाहित स्थल, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट की यात्रा करेंगे।
चित्रकूट से चलकर यह ट्रेन नासिक पहुंचेगी, जहां पंचवटी और त्रयंबकेश्वर मंदिर का भ्रमण किया जा सकेगा। नासिक के बाद प्राचीन किष्किंधा नगरी हंपी इस ट्रेन का अगला पड़ाव होगा, जहां अंजनी पर्वत स्थित श्री हनुमान जन्म स्थल और अन्य महत्वपूर्ण धार्मिक और विरासत मंदिरों का दर्शन कराया जाएगा। इस ट्रेन का अंतिम पड़ाव रामेश्वरम होगा। रामेश्वरम में पर्यटकों को प्राचीन शिव मंदिर और धनुषकोडी के दर्शन होंगे। रामेश्वरम से चलकर यह ट्रेन 17वें दिन दिल्ली वापस पहुंचेगी। यानी पूरी यात्रा में कुल 17 दिन का समय लगेगा। इस दौरान ट्रेन लगभग 7500 किलोमीटर का सफर तय करेगी।

अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस एसी पर्यटक ट्रेन में यात्री कोच के अतिरिक्त दो रेल डाइनिंग रेस्तरां, एक आधुनिक किचन कार और यात्रियों के लिए फुट मसाजर, मिनी लाइब्रेरी, आधुनिक स्वच्छ शौचालय और शॉवर क्यूबिकल आदि की सुविधा भी उपलब्ध होगी। साथ ही सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्ड, इलेक्ट्रॉनिक लॉकर और सीसीटीवी कैमरे भी हर कोच में उपलब्ध रहेंगे। यात्रा की पूरी अवधि के दौरान आईआरसीटीसी की टीम स्वच्छता एवं स्वास्थ्य संबंधी सभी प्रोटोकॉल का ध्यान रखेगी। सभी पर्यटकों को फेस मास्क, हैंड ग्लव्स और सैनिटाइज़र रखने के लिए एक सुरक्षा किट दी जाएगी। सभी पर्यटकों और कर्मचारियों का तापमान जांच और हॉल्ट स्टेशनों पर बार-बार ट्रेन सेनिटाइजेशन सुनिश्चित किया जाएगा। हर भोजन सेवा के बाद रसोई और रेस्तरां को साफ और सेनिटाइज किया जाएगा।

आईआरसीटीसी ने एसी प्रथम श्रेणी की यात्रा के लिए 1,02,095 रुपये का टिकट रखा है। वहीं 2 टीयर एसी कोच के लिए आपको 82,950 रुपये चुकाने होंगे। इस टूर पैकेज की कीमत में यात्रियों को रेल यात्रा के अतिरिक्त स्वादिष्ट शाकाहारी भोजन, वातानुकूलित बसों के जरिए पर्यटक स्थलों का भ्रमण, एसी होटलों में ठहरने की व्यवस्था, गाइड और इंश्योरेंस जैसी सुविधाएं दी जाएंगी। सरकार/पीएसयू के कर्मचारी इस यात्रा पर वित्त मंत्रालय, भारत सरकार की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर पात्रता के अनुसार एलटीसी सुविधा का फायदा भी उठा सकते हैं।








जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.