ताज़ा समाचार-->:

प्रमुख समाचार

दिल्ली में चीनियों को ठहरने के लिए होटल और गेस्ट हाउस नहीं मिलेगा..!

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली

25 जून 2020

कॉन्फेडरेशन ऑफ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के चीनी सामान बहिष्कार के आह्वान पर दिल्ली के बजट होटलों के संगठन दिल्ली होटल एंड गेस्ट हाउस ओनर्स एसोसिएशन (धुर्वा) ने भी बड़ा फैसला किया है। राजधानी में 3000 से ज्यादा बजट होटल और गेस्ट हाउस हैं।


एसोसिएशन के महामंत्री  ने कहा है कि चीन ने भारत के साथ जिस तरह से धोखा किया है उससे राज्य के होटल कारोबारियों में गुस्सा है। एसोसिएशन ने घोषणा की है कि दिल्ली के होटल और गेस्ट हाउस में अब से किसी भी चीनी नागरिक को ठहराया नहीं जाएगा। लद्दाख में चीनी सेना के साथ संघर्ष में 20 भारतीय जवानों की शहादत का गुस्सा देश में चरम पर है। आम जनता से लेकर कारोबारी तक चीनी सामान के बहिष्कार में जुटे हुए हैं। इसी क्रम में अब दिल्ली के होटल और गेस्ट हाउस में चीनी नागरिकों को नहीं ठहरने देने का फैसला किया गया है।




जरा ठहरें...
सेना का चीन को दो टूक जवाब:...हैं तैयार हम...!
रेलवे 48 हजार झुग्गियां हटाने की तैयारी में
हिंदुस्तान का "तूफान" दुश्मनों पर कहर बरपाने के लिए तैयार है!
वित्त मंत्रालय की सफाई, नौकरियों में भर्ती पर रोक नहीं…!
भारत के खिलाफ चीन की खतरनाक संकेत, अब लिपुलेख के पास तैनात किए अपने सैनिक...?
लेह में प्रधानमंत्री ने भरी हुंकार, लेह भारत का मस्तक..!
80 करोड़ लोगों को नवंबर तक मुफ्त में अनाज दिया जाएगा -- प्रधानमंत्री
हमारे जवान मारते - मारते शहीद हुए हैं - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
घर घर पहुँचे विधानसभा प्रत्यासी, आम जनता से सीधे किया जन संम्पर्क
आम जनता से सीधे जनसंम्पर्क किया मटियाला विधानसभा के प्रत्याशी आकाश श्रीवास्तव ने
ख़ास: मोदी सरकार राष्ट्रपति भवन से लेकर इंडियागेट तक कायाकल्प करने की तैयारी पूरी की!
आज के इस ऐतिहासिक फैसले को हमने साल भर पहले ही ब्रेक कर दी थी..!
मुफ्त गैस कनेक्शन के पीछे सरकार का खेल, 8 करोड़ को दो 80 करोड़ से लो!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.