ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

प्रमुख समाचार

देश में बनी कोरोना वैक्सीन को मिली मंजूरी

आकाश श्रीवास्तव

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क

1 जनवरी 2020

नए साल के पहले दिन अच्छी ख़बर पूरे हिंदुस्तान के लिए है। 2020 में जिस कोरोना ने पूरे सामाजिक और आर्थिक ताने बाने को तहस नहस कर दिया था उस कोरोनो को सफाए के लिए 2021 के पहले ही दिन देश में बहुत बड़ी ख़बर आयी है। भारत में बनी कोरोना की वैक्सीन कोविशील्ड जिसे पुणे की सीरम इंस्टीट्यूट ने बनाया है उसे आपात इस्तेमाल की मंजूरी भारत के ड्रग्स नियंत्रक महानिदेशक के द्वारा दे दी गयी है। सूत्रों के अनुसार 6 जनवरी से पूरे देश में कोरोना को नेस्तानबूत करने के लिए टीकाकरण का अभियान शुरू कर दिया जाएगा।


प्रतीकात्मक तस्वीर।

हम बता दें कि विशेषज्ञों की समिति ने सीरम इंस्टिट्यूट की बनाई जा रही कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड को आपात स्थिति में इस्तेमाल की मंजूरी की सिफारिश कर दी है। इमर्जेंसी यूज की इजाजत पाने वाली यह देश की पहली कोरोना वैक्सीन होगी। एक्सपर्ट पैनल की इस सिफारिश को ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) वी. जी. सोमानी के पास भेजा जाएगा। अंतिम मंजूरी का फैसला DCGI करेंगे। केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) की कोविड-19 पर विशेषज्ञों की समिति ने शुक्रवार को एक अहम बैठक के बाद वैक्सीन की अनुमति देने का फैसला किया। अब इस वैक्सीन के इमर्जेंसी यूज का रास्ता तकरीबन साफ हो गया है। DCGI से अंतिम मंजूरी मिलने के बाद वैक्सीनेशन अभियान शुरू हो सकेगा। पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया (SII) दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है और इसने कोविशील्ड के उत्पादन के लिए AstraZeneca के साथ करार किया है।

ब्रिटेन की मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी ने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में वैज्ञानिकों द्वारा विकसित तथा एस्ट्रेजेनेका द्वारा निर्मित टीके को बुधवार को मंजूरी प्रदान की थी। सीडीएससीओ की कोविड-19 पर विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने बुधवार को टीके के आपात उपयोग की मंजूरी देने के एसआईआई के आवेदन पर विचार किया था और इस मामले में शुक्रवार को एक बार फिर समीक्षा की। सीडीएससीओ ने एसआईआई से पहले अतिरिक्त सुरक्षा और प्रतिरक्षा संबंधी जानकारी मांगी थी। सूत्रों ने बताया कि SII के आवेदन के बाद समिति ने भारत बायोटेक के कोविड-19 रोधी टीके कोवैक्सीन के आपात उपयोग की मंजूरी देने की उसकी अर्जी पर विचार करना भी शुरू किया है लेकिन इस मामले में अभी अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। ख़बर अपडेट हो रही है.....




जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.