ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

शरद ने जिन्हें चलना सिखाया उन्हीं ने शरद को किनारे किया

पटना

जनता दल (युनाइटेड) के बागी नेता शरद यादव और अली अनवर की राज्यसभा सदस्यता खत्म होने पर पार्टी ने जहां तंज कसा है, वहीं राष्ट्रीय जनता दल (राजद) शरद के साथ नजर आ रही है। राजद का मानना है कि शरद का कद इतना बड़ा है कि वह किसी पद के मोहताज नहीं हैं। उनकी पहचान उनकी सिद्घांत और उनकी विचारधारा रही है। 

राजद के प्रवक्ता मृत्यंजुय तिवारी ने राज्यसभा सचिवालय के इस फैसले को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि शरद ने जिन लोगों को राजनीति में चलना सिखाया, वही लोग उनकी सदस्यता समाप्त करने में लगे रहे। उन्होंने जद (यू) अध्यक्ष नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि वे इससे पहले जॉर्ज फर्नांडिस के साथ भी ऐसा ही व्यवहार कर चुके हैं। 

इधर, जद (यू) के प्रवक्ता नीरज कुमार ने मंगलवार को शरद यादव को नसीहत देते हुए कहा कि अब केवल राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद 'जिंदाबाद' कहने से काम नहीं चलेगा अब लालू के पुत्र तेजस्वी, तेजप्रताप और राबड़ी देवी का भी गुणगान करना होगा।  उन्होंने कहा, "शरद और अली अनवर ने जब राजनीति में भ्रष्टाचार और परिवारवाद के परिचायक लालू प्रसाद 'जिंदाबाद' का नारा लगाया था, तब जद (यू) ने राज्यसभा सचिवालय में उनकी सदस्यता समाप्त करने के लिए आवेदन दिया था। इस निर्णय का जद (यू) स्वागत करता है, इससे राजनीति में शुचिता का संदेश गया है।" 

उन्होंने कहा कि इस निर्णय से दलबदल कानून की रक्षा हुई है। नीरज ने शरद यादव पर कटाक्ष करते हुए उन्हें सलाह दी, "शरद जी, अब राजनीति धर्नाजन का माध्यम है, यह सिद्घांत के रूप में अपने जीवन में प्रतिपादित कीजिए, अब केवल यही रास्ता बचा है।" उल्लेखनीय है कि जद (यू) के बागी सांसद शरद यादव और अली अनवर को सोमवार को राज्यसभा से अयोग्य करार दिया गया। उनकी सदस्यता तत्काल प्रभाव से रद्द कर दी गई। राज्यसभा में जद (यू) के नेता आर. सी़ पी़ सिंह की याचिका पर यह फैसला किया गया। 6 दिसंबर 2017।








जरा ठहरें...
सर्वोच्च कोर्ट ने याचिका खारिज की
11 पूर्व सांसदों पर मामला तय
उद्योग जगत ने कहा जेडीपी में तेजी से आर्थिक सुधार होगा
आयकर विभाग की बड़ी कार्रवाई ३३ ठिकानों पर छापेमारी
नीतिश कुमार नहीं जाएंगे गुजरात प्रचार के लिए
मोदी नाकाम, अन्ना फिर करेंगे आंदोलन
नोटबंदी और जीएसटी से रैकिंग बढ़ी - जाजू
पानी से सुधरेगी दिल्ली की सेहत
चार महीने में समझे जीएसटी को जेटली - चिदंबरम
नोटबंदी से भ्रष्टाचार पूरी तरह नहीं खत्म होगा - जेटली
पटेल पर आरोप निराधार - कांग्रेस
लखनऊ - आगरा एक्सप्रेस वे पर वायुसेना का रिर्हसल, विमानों ने दिखाई दम-खम
दिवाली के बाद प्रदूषण का स्तर कई गुना बढ़ा
हमारे जज सरकार समर्थक नहीं - सर्वोच्च न्यायालय
मेट्रो से किराया वापस लेने की केजरीवाल की मांग
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें