ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

झारखंड

रांची में लहराया देश का सबसे ऊंचा राष्ट्रीय ध्वज, तिरंगा

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ टीम

रांची, २३ जनवरी २०१६

झारखण्ड ने देश को बहुत कुछ दिया है। देश का लगभग 40 प्रतिशत खनिज झारखण्ड से ही आता है, पर इस राज्य का अपेक्षित विकास नहीं हुआ, लेकिन समय ने करवट ली है, झारखण्ड तीव्र गति से विकास कर रहा है। हमें खुशी है कि जिस धरती पर परमवीर चक्र विजेता अलबर्ट एक्का पैदा हुए है, वहां झारखण्ड रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय की स्थापना हो रही है। इस विश्वविद्यालय की स्थापना के लिए केन्द्र भरपूर मदद करेगा।


ये बातें केन्द्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम में विश्व का सबसे बड़ा और भारत का सबसे ऊंचा तिरंगा का झंडोत्तोलन करने के बाद कहीं। बिरसा मुंडा फुटबॉल स्टेडियम में केन्द्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर, मुख्यमंत्री रघुवर दास और राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने जैसे ही बटन दबाया कि पहाड़ी मंदिर पर विश्व का सबसे बड़ा और भारत का सबसे ऊंचा तिरंगा शान से लहराने लगा। यहीं नहीं राष्ट्रीय ध्वज के शान से लहराते ही झारखण्ड की छोटी सी राजधानी रांची विश्व पटल पर छा गयी। रांची की ऐसी बन गयी कि अभी गणतंत्र दिवस आने में तीन दिन शेष है पर रांचीवासियों ने आज से ही गणतंत्र दिवस के रंग में खुद को रंगना शुरु कर दिया। नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती ने उनके उत्साह को और दुगना कर दिया था। रांचीवासियों के राष्ट्रीय ध्वज के प्रति इस अद्भुत प्रेम को देख केन्द्रीय रक्षा मंत्री भी अभिभूत हो गये। उन्होंने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 119 वीं जयंती के अवसर पर रांची पहाड़ी मंदिर में देश के सबसे ऊंचे, विशाल एवं सबसे सुंदर राष्ट्रीय ध्वज को फहराकर, वे गौरवान्वित महसूस कर रहे है। उन्होंने झारखण्ड में बननेवाले देश के तीसरे रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय का ऑनलाइन शिलान्यास भी किया और कहा कि वे हर प्रकार की मदद करने को तैयार है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आगामी वित्तीय वर्ष 2016-17 में ही रक्षा शक्ति विश्वविद्यालय में पढ़ाई शुरु कर दी जायेगी, ताकि यहां के देशभक्त युवा अपने राज्य व देश की रक्षा और सेवा में जुट जायें। राष्ट्रीय ध्वज को शान से फहरता देख मुख्यमंत्री रघुवर दास गदगद दीखे। उन्होंने कहा कि यह पल प्रत्येक झारखण्डवासियों के लिए गर्व का पल है। हमें संकल्प लेना होगा कि हम अपने महापुरुषों के बताए मार्गों पर चलकर, इस देश को स्वावलंबी, समृद्ध एवं विकसित बनायेंगे, क्योंकि हमें नहीं भूलना चाहिए कि इस देश को कई क्रांतिकारियों और वीरों ने अपने खून देकर सींचा है, आजादी दिलायी है। मुख्यमंत्री रघुवर दास ने केन्द्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर को इस बात के लिए बधाई दी कि उन्होंने रांची आने का समय निकाला और वे इस गौरवपूर्ण क्षण के महत्वपूर्ण सदस्य बने।




जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.