ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

मुख्य समाचार

बाढ़ पीड़ितों की मदद में जुटी भारतीय वायु सेना

थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़

२२ अगस्त २०१७

भारतीय वायु सेना के हेलिकॉप्टर पिछले नौ दिनों से बिहार तथा पूर्वी उत्तर प्रदेश में व्यापक बाढ़ राहत बचाव कार्य में लगे हुए हैं। यह हेलिकॉप्टर वायु सेना स्टेशन गोरखपुर से कार्य सम्पादित कर रहे हैं। बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में बचाव राहत के लिए अभी तक 60 घंटे में कुल 130 उड़ानें गोरखपुर वायु सेना स्टेशन से भरी जा चुकी हैं। उत्तर प्रदेश तथा बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में अभी तक 60 टन खाद्य पैकेट गिराये जा चुके हैं।

इसकी शुरुआत 14 अगस्त 2017 को हुई जब इस क्षेत्र में मुसलाधार बारिश होने के परिणामस्वरुप गंडक नदी के आस-पास के सभी गांव बाढ़ के कारण जलमग्न हो गये हैं। खराब मौसम के बावजूद वायु सेना के पायलटों के अदम्य साहस के बल पर महाराजगंज के उत्तर में बैथोलिया गांव में फँसे हुए 43 नागरिकों को सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया गया। जहाज के कैप्टन विंग कमांडर निखिल मेहरोत्रा ने बाढ़ क्षेत्र से 15 लोगों को विंच करके तथा 28 ग्रामिणों को 11 अलग-अलग स्थानों से बचाव राहत कार्य के दौरान सुरक्षित स्थान पर पहुँचाया गया। अभी तक उत्तर प्रदेश में 130 लोगों को विभिन्न स्थानों से सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया जा चुका है।

इसके साथ-साथ ही खाद्य पैकेटों को लगभग सभी प्रभावित क्षेत्रों में गिराने का कार्य प्रारम्भ हुआ। इस कार्य में 3 हेलिकॉप्टरों को लगाया गया जिन्होंने बेतिया, महाराजगंज तथा कुशीनगर जिलों के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में अनेक उड़ाने भरकर इस कार्य को सम्पन्न किया। पायलट विंग कमांडर आर के शर्मा की हवाई सर्वेक्षण रिपोर्ट के आधार पर सिद्धार्थनगर जिले में भी बचाव राहत कार्य शुरु किया गया।

पहले हेलिकॉप्टर द्वारा बिहार के बेतिया जिले में बचाव राहत कार्य शुरु किया गया, जिसके द्वारा गंडक नदी के पश्चिमी किनारे पर स्थित मंझरिया, पिपरसी, बिनवलिया, खप्परसा, बलवाल तथा बलुआ गांवों और संगौली, सेमराला बेदहा नगरों के ऊपर खाद्य पैकेट गिराया गया। दूसरे हेलिकॉप्टर ने उत्तर प्रदेश के कुशीनगर से साठ किलोमीटर उत्तर में स्थित शिवपुर, मर्चावाहा तथा शोंगी बरवा के ऊपर से राहत कार्य सम्पादित किया। तीसरे हेलिकॉप्टर द्वारा उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले के प्रतापपुर तथा गंगावाल नगरों के ऊपर से बाढ़ राहत बचाव कार्य सम्पादित किया।

19 अगस्त 17 को मोतीहारी जिले में इस जिले के सभी गांव बाढ़ के कारण जलमग्न हो गए थे। अतः इस दिन नई उड़ाने भरी गयी। कमान अफसर विंग कमांडर प्रणय कुमार, मोतीहारी जिले में व्यापक बाढ़ राहत अभियान को लगातार तीन दिनों तक अंजाम दिया, जिसके दौरान सिंगरौली, फुलवर, सिमरा, सिक्ता तथा रंगपारा गांव के बाढ़ प्रभावित लोगों को समय से खाद्य पैकेट तथा राहत सामग्री पहुँचायी गयी। जब तक इन क्षेत्रों से पानी का स्तर घट नहीं जाता या सिविल प्रशासन द्वारा सामान्य स्थिति बहाल नहीं कर दी जाती, नियमित बचाव राहत अभियान जारी रहेगा।








जरा ठहरें...
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें