ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

क्या आप जानते हैं

मानव मांस का शौकीन था ब्रिटिश राजघराना

लंदन

15 फरवरी 2012

अपनी भव्य दावतों और स्वादिष्ट व्यंजनों के शौक के लिए मशहूर ब्रिटेन का शाही घराना कभी मानव मांस खाने का भी शौकीन रहा है। एक किताब में इस बात का खुलासा किया गया है। 'ममीज, कैनिबाल्स एंड वैम्पायर' किताब में खुलासा किया गया है कि ब्रिटेन के शाही घराने के लोग सम्भवत: 18वीं सदी के अंत तक मानव शरीर के हिस्से सुरुचिपूर्ण ढंग से खाते थे।समाचार पत्र 'डेली मेल' के मुताबिक किताब के लेखक रिचर्ड सग का कहना है कि न केवल शाही घराने के लोग बल्कि यूरोप के अमीर लोग भी मानव मांस के शौकीन थे।


नोट: फोटो फाइल उपयोग के लिए है!

वैसे यह शाही घराना आधुनिक दुनिया के बर्बर नरभक्षियों की निंदा करता है लेकिन वे मानव के शरीर में मौजूद वसा, मांस, हड्डियां, खून, दिमाग और त्वचा का भोजन के रूप में इस्तेमाल करते रहे हैं। मानव शरीर के अंगों का उपचार में भी इस्तेमाल किया जाता था। इसके लिए मानव मांस, हड्डियों या खून का इस्तेमाल किया जाता था। रिचर्ड सग कहते हैं, "हमने साहित्य और इतिहास में पढ़ा है कि जेम्स प्रथम लाश से बनी दवा नहीं लेते थे, चार्ल्स द्वितीय खुद लाश से दवा बनाते थे और चार्ल्स प्रथम भी लाश से बनी दवा लेते थे।" उन्होंने कहा कि महारानी विक्टोरिया के समय में यह प्रथा गरीब लोगों के बीच बनी रही। सा. आईएनएस (23 मई 2011)।





जरा ठहरें...
जलियांवाला बाग: भाजपा का शीर्ष नेतृत्व श्रद्धांजलि देने नहीं पहुंचा
मोदी सरकार ने सारे सामाजिक ताने बाने को नष्ट कर दिया है - सोनिया गांधी
दिल्ली में सीएनजी के दाम बढ़े, सफर करना हुआ मंहगा!
दिल्ली के सातों सीटों के लिए भाजपा ने इन नामों की सूची आलाकमान को भेजी
चीन के खिलाफ व्यापारियों का फूटा गुस्सा, देश में जली चीनी सामानों की होलिका
देश की विभूतियों को राष्ट्रपति पद्म पुरस्कारों से किया सम्मानित
118 सालों में दिल्ली का मौसम मार्च माह में सबसे ज्यादा ठंड रहा
ये पार्टी लोकसभा चुनाव 2019 में 283 सीटों पर महिला उम्मीदवार उतारेगी
“सरकार की मंशा अच्छी, पर दिव्यांग कल्याण के लिए ठोस कदम उठाएं”- अमित कुमार
मंगला एक्सप्रेस में गंदे पानी से बनाया जाता है सूप और अन्य चीज
सरकार ने अनाजों के उत्पादन के आंकडे जारी किए!
दिल्ली में ४० प्रतिशत लोगों का मानना वह सुरक्षित नहीं
रेलवे ने मेल और एक्सप्रेस रैक्स के उन्नयन के लिए ’प्रोजेक्ट उत्कृष्ट’ शुरू किया
रंजन गोगोई बने देश के नए मुख्य न्यायाधीश
मोदी कैबिनेट का बड़ा फैसला तीन तलाक पर अध्यादेश जारी
बिना इंजन की ट्रेन-18 जल्द मिलेगी लोगों को सफर करने के लिए!
वैज्ञानिकों ने माना रामसेतु मानव निर्मित है
30 किलो से ज्यादा वजन के कुत्ते को घोड़ा मानता है रेलवे!
२०५ साल के बाबा, १०५ साल से नहीं खाया एक अन्न भी!
 
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.