ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

हमें जानें


मुख्य समाचार
आकाश श्रीवास्तव
संपादक
थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़।

छोटी सी बात "थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़" के बारे में!


थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ डॉट कॉम हिंदी में कार्यरत एक विश्व स्तरीय न्यूज़ पोर्टल (डिजीटल मीडिया) है। इसकी शुरूआत अगस्त 2009 में श्रीवास्तव बंधुओं द्वारा किया गया। तब से अपने पाठकों के सहयोग और प्रेम के बलबूते ‘थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़’ निरंतर प्रगति कर रहा है। "ख़बर हर कीमत पर पूरी सच्चाई, निक्षपक्षता और निडरता के साथ” यही हमारी नीति, ध्येय और उद्देश्य है। बिना किसी भेदभाव और दुराग्रह से मुक्त होकर थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ डॉट कॉम ने पाठकों में अपनी एक अलग विश्वसनीयता कायम की है।


थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ में ख़बर का अर्थ किसी तरह की सनसनी फैलाना नहीं है। हम ख़बर को ‘गति’ से पाठकों तक पहुंचाना तो चाहते हैं पर केवल 'कवरेज' तक सीमित नहीं रहना चाहते। यही कारण है कि पाठकों को थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ की खबरों में पड़ताल के बाद सामने आया सत्य पढ़ने को मिलता है। हम जानते हैं कि ख़बर का सीधा असर व्यक्ति और समाज पर होता है। अतः हमारी ख़बर फिर चाहे वह स्थानीय महत्व की हो या राष्ट्रीय अथवा अंतरराष्ट्रीय महत्व की, प्रामाणिकता और विश्लेषण के बाद ही ऑनलाइन प्रकाशित होती है।


अपनी विशेषताओं और विश्वसनीयताओं की वजह से ‘थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़’ (www.thirdeyeworldnews.com) लोगों के बीच एक अलग पहचान बना चुका है। आप सबके सहयोग से आगे इसमें इसी तरह वृद्धि होती रहेगी, इसका पूरा विश्वास भी है। आकाश श्रीवास्तव, थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़, के प्रधान संपादक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। जो पूरी टीम का नेतृत्व कर रहे हैं। उन्हें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता का पिछले लगभग 18 वर्षों का अनुभव है।


हम बता दें, आकाश श्रीवास्तव ने पत्रकारिता की शुरूआत पुणे में "नवभारत' समूह से किया था। 1998 से 2001 तक समूह के लिए बतौर संवादादाता एवं रक्षा संवाददाता के रूप में काम किया। 2002 से 2003 तक कॉपी एडिटर के रूप में ईटीवी न्यूज़ चैनल, हैदराबाद और लखनऊ, उ.प्र. में काम किया। 2005 से 2007 तक नई दिल्ली के एस-1 न्यूज़ चैनल में बतौर प्रोड्यूसर एवं संवाददाता के रूप में काम किया। सन् 2000 में युद्ध पत्रकारिता का पाठ्यक्रम भी पूरा किया जिसे भारत सरकार का रक्षा मंत्रालय कराता है। 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' को शुरू करने से पहले वे एन.डी.टी.वी. में बतौर इनपुट एडिटर अपनी सेवाएँ दे चुके हैं। विश्वास है कि वरिष्ठ सलाहकारों और युवा संवाददाताओं के सहयोग से 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' जो 'डिजीटल मीडिया' है पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना विशिष्ट स्थान बनाने में कामयाब रहा है।


नोट: सार्वजनिक सूचना, थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ (www.thirdeyeworldnews.com) जो "डिजीटल मीडिया" एवं ऑनलाइन न्यूज़ पोर्टल हैं, के साथ जुड़े सभी सहयोगी अवैतानिक हैं जो स्वैच्छिक रूप से जुड़कर अपना योगदान दे रहे हैं।


मनीष श्रीवास
जबलपुर, म. प्र.
मनीष श्रीवास पिछले लगभग दस सालों से पत्रकारिता के क्षेत्र में सक्रिय हैं। मनीष को कई राष्ट्रीय और क्षेत्रीय टीवी चैनलों के साथ प्रिंट मीडिया में काम करने का अनुभव है। मनीष अब 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' जो एक ऑन लाइन (वेब न्यूज़ चैनल) है जिसे 24 घंटे पूरे विश्व में कहीं भी देखा सकता है, (www.thirdeyeworldnews.com) के साथ जुड़कर अपना योगदान दे रहे हैं। मनीष श्रीवास  वर्तमान में जबलपुर, मध्य प्रदेश से 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' के साथ जुड़कर कार्य कर रहे हैं।

मोनू दुआ
नई दिल्ली
मोनू दुआ पत्रकारिता के क्षेत्र में पिछले तकरीबन 14 साल से सक्रिय हैं। अनेक न्यूज़ चैनलों के के लिए मोनू ने अपना योगदान दिया है। अब मोनू दुआ 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' (www.thirdeyeworldnews.com) जो डिजीटल मीडिया है के साथ जुड़कर अपना योगदान दे रहे हैं।

राम लखन
विशेष संवाददाता
लखनऊ, उत्तर प्रदेश
रामलखन  पत्रकारिता के क्षेत्र में  उभरते हुए पत्रकार हैं। पिछले कई सालों से विभिन्न क्षेत्रों में सक्रिय हैं। रामलखन पत्रकारिता के क्षेत्र में भी सक्रिय हैं। अब रामलखन लखनऊ, उत्तर प्रदेश से 'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' (www.thirdeyeworldnews.com) जो एक बेव न्यूज़ चैनल है के साथ जुड़कर अपना योगदान दे रहे हैं।

Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें