ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

ख़ास ख़बरें

गुजरात चुनावों के बाद संसद का शीत सत्र होगा!
रेलवे को और बजट की जरूरत नहीं - गोयल
फोर्टिज अस्पताल की अंधेरगर्दी से बच्ची की मौत, नड्डा ने...
सुविधा के नाम पर रेलवे ने फिर लादी आम लोगों...
निर्भया के भाई की मदद में जुटे राहुल गांधी!
देश में स्टील कार्गो की शुरूआत, आद्योगिक विकास को मिलेगा...

जरा इधर भी


इन तस्वीरों को देखें!

चौबे बने उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक

विश्वेश चौबे, महाप्रबंधक मेट्रो रेलवे, कोलकाता ने महाप्रबंधक, उत्तर रेलवे  के रूप में मगंलवार को पदभार ग्रहण कर लिया है। वे आर. के. कुलश्रेष्ठ का स्थान लेंगे जो दक्षिण रेलवे, चेन्नई के महाप्रबंधक के रूप में  कार्यभार संभालेंगे। ये 1980 बैच के आइ.आर.एस. इ. अधिकारी हैं। इन्‍होंने इंस्‍टीटयूट ऑफ टेक्‍नोलॉजीलॉजी, बनारस हिन्‍दु विश्‍वविद्यालय से सिविल इंजीनियरिंग में बी.टेक एवं आई.आई.टी. दिल्‍ली से स्‍ट्रक्‍चर इंजीनियरिंग में एम. टेक. किया है।

ये भारतीय रेलवे के प्रतिष्‍ठित सिविल इंजीनियरिंग संस्‍थान (इरिसेन), पुणे, जो सरकारी एवं निजी क्षेत्र से संबंधित विशेषकर रेल परिवहन एवं संबद्ध क्षेत्र को प्रशिक्षण प्रदान करता है, के निदेशक रह चुके हैं। विश्‍वेश चौबे के प्रबंधन में इरिसेन ने सावित्रीबाई फूले पुणे विश्‍वविद्यालय के सहयोग से एम.टेक पाठ्यक्रम प्रारंभ किया।

इन्‍होंने विभिन्‍न तकनीकी स्‍थायी समितियों में जैसे ट्रैक स्‍टैन्‍डर्ड कमिटी,व्रिज स्‍टैन्‍डर्ड कमिटी एवं वर्क स्‍टैन्‍डर्ड कमिटी जो डिजाइन निर्माण मेन्‍टेनेंश एवं रेल रोड एवं संबद्ध क्षेत्रों के नीतियों एवं प्रक्रियाओं का पूर्ण स्‍वर परिसर (गैमट) में भी अध्‍यक्ष के रूप में सेवाएं प्रदान की है। इन्‍होंने उत्‍तर रेलवे के महत्‍वपूर्ण पदों पर जैसे मुख्‍य ट्रैक इंजीनियर एवं मंडल रेल प्रबंधक फिरोजपुर के रूप में भी कार्य किया है।

मंडल रेल प्रबंधक फिरोजपुर के सेवाकाल के दौरान आपने यातयात सुविधा एवं 33 स्‍टेशनों के निर्माण कार्य के दौरान नॉन  इंटरलॉकिंग कार्य  जैसे विभिन्‍न कार्यों को पूरा किया है। 2010 में कश्‍मीर घाटी में उग्रवादी गतिविधियों एवं पंजाब के अनेक किसान आंदोलनों के दौरान रेल संचालन  कार्य को सफलतापूर्वक संभाला। मंडल रेल प्रबंधक के रूप में सेवा अवधि के दौरान काश्‍मीर घाटी के आंदोलनकारियों द्वारा रेलवे सम्‍पदा को तहस-नहस करने के बाद विपरीत परिस्‍थितियों में रेल सेवा को दक्षतापूर्वक बहाल किया। 31 अक्टूबर 2017।

 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
मोदी सरकार के तीन साल के कार्यकाल से आप खुश हैं?
हां
नहीं
कह नहीं सकते
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें