ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

ख़ास ख़बरें

दिल्ली रहने लायक नहीं, सरकारी सर्वेक्षण में देश में 65...
रेल ब्लॉक के चलते बड़ी संख्या में रेलगाड़ियां रद्द करने...
अब प्रियंका गांधी रायबरेली से लड़ेंगी २०१९ का लोकसभा चुनाव?...
रेलवे में फ्लैक्सी किराया लगने से ७ लाख यात्री दूर,...
आजाद भारत के 1.84 करोड़ लोग गुलाम, और 12 करोड़...
भाप इंजन की रेलगाड़ी एक बार फिर दौड़ेगी पटरी पर!...

जरा इधर भी


इन तस्वीरों को देखें!

सिम से आधार को जोड़े जाने की जानकारी कंपनियां ग्राहकों को दें - यूआईडीआईए

आधार के बढ़ते गलत इस्तेमाल और धोखाधड़ी को देखते हुए यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने सभी टेलिकॉम कंपनियों को अपने ग्राहकों को ऐसी सुविधा देने को कहा है जिससे उन्हें यह जानकारी मिल सके कि उनका सिम कार्ड आधार नंबर से लिंक है या नहीं या फिर उन्हें कराने की उन्हें जरूरत पड़ सकती है। देश में लगभग 1.2 अरब से अधिक लोगों का आधार के लिए नामांकन करा लिया है। वही आधार को बैंक खाते से और दूसरी वित्तीय सेवाओं और मोबाइल नेटवर्क सर्विस प्रोवाइडर को जोड़ने की अंतिम तारीख 31 मार्च है।

ऐसा यूआईडीएआई ने इसलिए किया है ताकि आधार का गलत इस्तेमाल पर लगाम लगाई जा सकें। आपको बता दें कि UIDAI के वेरिफिकेशन की फैसिलिटी को लेकर कुछ रिटेलर्स, ऑपरेटर्स और टेलिकॉम कंपनिया और एजेंट आधार गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। किसी नई सिम को जारी करने के लिए और मोबाइल नंबर को वेरिफाई करने के लिए आधार का गलत रूप से इस्तेमाल किया जा रहा हैं। किसी व्यक्ति के आधार नंबर पर कोई दूसरें व्यक्ति को सिम कार्ड इश्यू कराने की घटना बढ़ती जा रही है, जिसके चलते UIDAI ने टेलिकॉम कंपनियों को ये दिशा-निर्देश दिया है कि वे पूरी तरह से जिम्मेदारी ले कि उनके रिटेलर्स या एजेंट किसी तरह की धोखाधड़ी की गतिविधियों में शामिल न हो।

यदि कोई नंबर गलत तरीके से किसी दूसरे के आधार पर लिंक्ड होता है तो टेलिकॉम कंपनियां इस मामले में सख्‍ती से कार्यवाही करें। टेलिकॉम कंपनियों को ये भी निर्देश दिया है कि उपभोक्ता को यह जानने का अधिकार है कि उनका मोबाइल किस आधार नंबर से रजिस्टर्ड है या नहीं, इसलिए टेलिकॉम कंपनियां ये जानकारी उपभोक्ता तक ​नई सुविधा के तहत 15 मार्च तक शुरू कर दें। इस सुविधा के में उपभोक्ता को एसएमएस के जरिए यह जान सकेंगे कि उनका मोबाइल नंबर आधार से लिकिंड है, इसी तरह वे यह भी जान सकेंगे कि उनके आधार नंबर पर और कितने मोबाइल नंबर जारी हैं।
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.