ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

ख़ास ख़बरें

भाजपा एक साथ पूरे देश में आज से ५० जगहों...
भाजपा को सर्वोच्च न्यायालय का तगड़ा झटका, रथ यात्रा की...
मोदी और शाह को छोड़कर बाकी पूरे कैबिनेट को न्यौता...
प्रधानमंत्री ने घबड़ाहट में सीबीआई प्रमुख को पद से हटाया...
कांग्रेस ने कहा कि ब्लैक लिसटिंग कंपनी को मोदी ने...
भारतीय रेलवे ने डीजल इंजन को विद्युत इंजन में तब्दील...

जरा इधर भी


इन तस्वीरों को देखें!

सीलिंग के खिलाफ दिल्ली में व्यापारियों का हुआ विराट धरना

दिल्ली में दुकानों की लगातार हो रही सीलिंग को अपने विरोध का एक बड़ा मुद्दा बनाते हुए दिल्ली के सैकड़ों व्यापारियों ने आज जंतर मंतर पर कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ आल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा आयोजित एक धरने में मॉनिटरिंग कमेटी की कटु आलोचना करते हुए कहा की मॉनिटरिंग कमेटी के अलोकतांत्रिक एवं अड़ियल रवैय्ये के कारण दिल्ली में चारों तरफ सीलिंग का कहर है और सही होने के बावजूद भी अभी तक एक भी व्यापारिक प्रतिष्ठान की सील खुली नहीं है ! देश की राजधानी दिल्ली में लाखों लोगों के सामने रोजी रोटी का एक बड़ा संकट खड़ा हो गया है क्योंकि पिछले एक वर्ष से दिल्ली में हजारों दुकाने सील होने के कारण बंद पड़ी है।

कैट ने सरकार से मांग की है की दिल्ली में सीलिंग को रोकने के अब ठोस कदम उठाये जाएँ और सरकार या तो संसद के चालू सत्र में इस मुद्दे पर बिल लाये अथवा संसद सत्र के तुरंत बाद एक अध्यादेश लाये जिसमें एक कट ऑफ़ डेट घोषित की जाए और उस कट ऑफ़ डेट तक दिल्ली में जो भी स्तिथि थी उसे बरक़रार रखा जाए ! बिल अथवा अध्यादेश में सीलिंग से बंद हुई दुकानों की सील भी तुरंत खोली जाने का प्रावधान हो ! कैट ने सरकार से यह भी मांग की है की मॉनिटरिंग कमेटी के तानाशाही रवैय्ये को देखते हुए सरकार सुप्रीम कोर्ट से मॉनिटरिंग कमेटी को भंग करने की मांग करे !

धरने में शामिल व्यापारियों ने सीलिंग और मॉनिटरिंग कमेटी के खिलाफ अपने गुस्से का इजहार करते हुए जोरदार नारे लगाए और मॉनिटरिंग कमेटी के एक पुतले का दहन भी किया ! दिल्ली में लगभग 7 लाख व्यापारी है जो लगभग 25 लाख लोगों को रोजगार देते हैं , इस मायने में सेसलिंग दिल्ली के व्यापारियों के लिए किसी भी दानव से कम नहीं है !

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने बताया की दिल्ली में सीलिंग व्यापारियों एवं उनके कर्मचारियों की रोजी रोटी से जुड़ा होने के कारण बड़ा मुद्दा हैं ! दिसम्बर 2017 से लेकर अब तक गत एक वर्ष में दिल्ली में हजारों दुकाने सील हो गई हैं जिनकी कोई सुनवाई नहीं है वहीँ दूसरी ओर अन्य हजारों दुकानों पर सीलिंग की तलवार लटकी हुई है लेकिन सीलिंग का डर ज्यों का त्यों बना हुआ है सुप्रीम कोर्ट में मामला एक लम्बे समय से चल रहा है और कोई फैसला नहीं हो रहा है जबकि तारीख पर तारीख पड़ रही है ! कोर्ट में व्यापारियों का पक्ष रखा ही नहीं जा रहा ! मॉनिटरिंग कमेटी एक निरंकुश तानाशाह की तरह अड़ियल रवैय्ये से काम कर दिल्ली भर में सीलिंग करने पर तुली हुई है। थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़, नई दिल्ली। 3 जनवरी 2019

 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.