ताज़ा समाचार-->:
अब खबरें देश-दुनिया की एक साथ एक जगह पर-->

ख़ास ख़बरें

एनडीए ने द्रौपदी मुर्मू को बनाया राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार...
सरकार का अगले डेढ़ साल में 10 लाख नौकरी देने...
सामाजिक न्याय मंत्रालय गरीब अनुसूचित पिछडे वर्ग के कल्याण के...
मैने आठ साल से ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे...
ज्ञानवापी मामले में सर्वोच्च न्यायालय का बड़ा फैसला, मामले को...
केंद्र ने गेहूं निर्यात पर लगाए प्रतिबंध, म.प्र. के 5...

जरा इधर भी


इन तस्वीरों को देखें!

एनडीएमसी के उपाध्यक्ष ने जल जनित रोग की रोकथाम की जागरूकता रैली को रवाना किया

आकाश श्रीवास्तव, 
थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली, 09-05-2022

नई दिल्ली नगरपालिका परिषद क्षेत्र में जल जनित रोगों की रोकथाम और नियंत्रण के लिए जागरूकता अभियान के अंतर्गत एक जागरूकता रैली को झंडी दिखाकर पालिका परिषद के उपाध्यक्ष सतीश उपाध्याय ने एम्स, नई दिल्ली परिसर से रवाना किया। इस अवसर पर उपाध्याय ने एम्स परिसर में छात्रों, संकाय सदस्यों, डॉक्टरों, छात्रावास में रहने वालों, एम्स के फील्ड स्टाफ और एनडीएमसी के कर्मचारियों को संबोधित भी किया और कहा कि निस्संदेह डेंगू एडीज मच्छरों के कारण होने वाली सबसे खतरनाक और घातक बीमारियों में से एक है। इसलिए, मच्छरों के प्रजनन स्थलों को पूरी तरह से साफ स्वच्छ कर देना चाहिए क्योंकि यह डेंगू और अन्य जल जनित बीमारियों को रोकने का पहला और सबसे महत्वपूर्ण तरीका है।

पालिका परिषद के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी (एम.ओ.एच.) - डॉ. रमेश ने कहा कि मच्छर नमी वाले मौसम में साफ ठहरे हुए पानी में पैदा होते हैं, इसलिए हम सभी के लिए यह जरूरी है कि हम अपने परिसर और उसके आस-पास साफ-सफाई बनाए रखें और सुनिश्चित करें कि पानी जमा न हो। उन्होंने आगे कहा कि नई दिल्ली क्षेत्र के अस्पतालों में सभी ड़ेंगू संबन्धी चिकित्सा और परीक्षण सुविधाएं उपलब्ध हैं और लोग बिना किसी शुल्क के इन सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं। उपाध्याय ने छात्रों, संकाय सदस्यों, डॉक्टरों, छात्रावास के वासियों और क्षेत्र के अन्य लोगों से बुखार के मामले में अपील की है कि कृपया अपने नजदीकी अस्पताल / स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर निःशुल्क रक्त परीक्षण और प्लेटलेट काउंट करवाएं और डॉक्टर से भी सलाह लें। उन्होंने कहा कि नियमित रूप से मच्छरदानी का प्रयोग करें और अपने घर और आसपास पानी जमा होने की जांच करें। उन्होंने जनता से डेंगू से निपटने के लिए हर संभव तरीके से स्वास्थ्य कर्मियों के साथ सहयोग करने का आग्रह भी किया।

उपाध्याय ने टीम एनडीएमसी के साथ एम्स परिसर का दौरा करते हुए बैनर, पोस्टर, प्ला-कार्ड और नारों के माध्यम से आज जागरूकता अभियान चलाया। उपाध्याय ने कहा कि भारत के माननीय प्रधान मंत्री ने पहले ही 2014 में प्रत्येक शहर में बाजार क्षेत्रों, सार्वजनिक स्थानों, सड़कों, पार्कों, अस्पतालों आदि में स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए स्वच्छता मिशन की घोषणा की थी । उन्होंने कहा कि टीम एनडीएमसी स्वच्छता जागरूकता रैली, सिंगल यूज प्लास्टिक को 'ना' कहें, जीरो वेस्ट इवेंट आदि पहल करके भारत के माननीय प्रधान मंत्री के दृष्टिकोण को सच्ची भावना के साथ लागू करने के लिए प्रतिबद्ध है।
 
उन्होंने कहा कि एनडीएमसी का उद्देश्य इस पहल के पीछे एनडीएमसी क्षेत्र को सुशोभित करना और आगामी स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में 7 स्टार रैंकिंग हासिल करना है। इस अवसर पर स्वास्थ्य विभाग की मुख्य चिकित्सा अधिकारी - डॉ. गुंजन सहाय सहित बड़ी संख्या में वरिष्ठ चिकित्सक एवं एम्स के अन्य पैरा-मेडिकल स्टाफ भी उपस्थित था।
 
Third Eye World News
इन तस्वीरों को जरूर देखें!
Jara Idhar Bhi
जरा इधर भी

Third Eye World News: वीडियो
संसद भवन की नई इमारत...
Site Footer
इस पर आपकी क्या राय है?
चीन मुद्दे पर क्या सरकार ने जितने जरूरी कठोर कदम उठाने थे, उठाए कि नहीं?
हां
नहीं
पता नहीं
 
     
ग्रह-नक्षत्र और आपके सितारे
शेयर बाज़ार का ताज़ा ग्राफ
'थर्ड आई वर्ल्ड न्यूज़' अब सोशल मीडिया पर
 फेसबुक                                 पसंद करें
ट्विटर  ट्विटर                                 फॉलो करें
©Third Eye World News. All Rights Reserved.